UNCATEGORIZED

सीरिया से अमेरिकी सैनिकों की वापसी का अफगान सुरक्षा पर नहीं पड़ेगा असर

अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी की खबर के बीच यह पहली आधिकारिक प्रतिक्रिया आयी है। राष्ट्रपति के प्रवक्ता हारून चखानसूरी ने सोशल मीडिया के जरिए कहा है, ‘‘अगर वे अफगानिस्तान से जाएंगे,

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी के प्रवक्ता ने शुक्रवार को कहा कि उनके देश से अमेरिकी सैनिकों की वापसी से इस युद्ध ग्रस्त देश की सुरक्षा पर असर नहीं पड़ेगा।
अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी की खबर के बीच यह पहली आधिकारिक प्रतिक्रिया आयी है। राष्ट्रपति के प्रवक्ता हारून चखानसूरी ने सोशल मीडिया के जरिए कहा है, ‘‘अगर वे अफगानिस्तान से जाएंगे, तो इससे सुरक्षा पर असर नहीं पड़ेगा क्योंकि पिछले साढ़े चार साल में अफगानों का पूरा नियंत्रण हो गया है।’’
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का कहना है कि सीरिया में वर्षों से आतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट के खिलाफ लड़ रही अमेरिकी सेना को अब घर वापस बुलाने का वक्त आ गया है। बुधवार को ट्विटर पर पोस्ट एक वीडियो संदेश में आईएस जिहादियों की हार की घोषणा करते हुए ट्रंप ने कहा, ‘‘हम जीत गए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमने उन्हें हरा दिया है और उन्हें बुरी तरह हराया है। हमने जमीन वापस ले ली है।
उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए हमारे लड़के, युवतियां, हमारे लोग…. वे सभी वापस आ रहे हैं।’’ वाशिंगटन में सीरिया से 2000 अमेरिकी सैनिकों को वापस बुलाने की खबरों के बीच ट्रंप का यह संदेश आया है। अमेरिका के एक अधिकारी ने कहा कि ट्रंप ने इस पर अंतिम फैसला मंगलवार को लिया।
वहीं, व्हाइट हाउस का कहना है कि सीरिया से सैनिकों को वापस बुलाने का ट्रंप का फैसला उनकी नीतियों के अनुरूप है क्योंकि युद्ध से जर्जर देश में अमेरिकी सैनिकों का मुख्य कार्य आईएस को हराना था। अमेरिकी सेना वहां कभी भी गृहयुद्ध के समाधान के लिए नहीं गई थी।
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close